uddhav thackeray mosque
India

महाराष्ट्र सरकार का बड़ा एलान, शर्तों के साथ खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल!

मुंबई: 16 नवंबर, सोमवार से महाराष्ट्र सरकार प्रदेश के सभी धार्मिक स्थल खोलने जा रही है। बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण के चलते महाराष्ट्र में संक्रमण के सबसे अधिक मामले सामने आये थे।

जिसके बाद महाराष्ट्र सरकार ने प्रदेश के सभी धार्मिक स्थल समेत स्कूल, कॉलेज को बंद कर दिया थे।

अब सोमवार से महाराष्ट्र सरकार लॉकडाउन को हटाने जा रही है लेकिन मास्‍क पहनना सभी के लिए अनिवार्य होगा। महाराष्‍ट्र सरकार ने आज शनिवार को कहा, राज्य में सभी धार्मिक स्थल 16 नवंबर, सोमवार से भक्तों के लिए फिर से खुलेंगे।

मास्‍क पहनना अनिवार्य होगा, सभी COVID मानदंडों का पालन करना होगा। सीएम ठाकरे ने कहा कि पूजा स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा। उन्होंने लोगों से सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने से बचने की भी अपील की।

बीते 8 नवंबर को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को धार्मिक पूजा स्थलों को फिर से खोलने का संकेत देते हुए कहा कि दिवाली के बाद भीड़ से बचने और शारीरिक दूरी को सुनिश्चित करने के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया तैयार की जाएगी।

एक वेबकास्ट में, ठाकरे ने कहा था कि धार्मिक पूजा स्थलों केो फिर से खोलने में जल्दीबाजी न करने के लिए उनकी आलोचना हो रही है।

ठाकरे ने कहा, अगर इससे नागरिकों के अच्छे स्वास्थ्य और सुरक्षा सुनिश्चित होती है, तो मैं आलोचना झेलने के लिए तैयार हूं। पूजा स्थलों पर भीड़ से बचने और शारीरिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए काम किया जाएगा और दिवाली के बाद एक मानक संचालन प्रक्रिया का मसौदा तैयार किया जाएगा।

ठाकरे ने कहा था कि पूजा स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा. उन्होंने लोगों से सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने से बचने की भी अपील की थी।

सीएम ठाकरे ने कहा था, मैं इस पर प्रतिबंध लागू नहीं करना चाहता. हमें एक-दूसरे पर विश्वास और भरोसा रखना चाहिए। दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों की वृद्धि में प्रदूषण को कारण बताए जाने का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, हमें पटाखे फोड़ने पर आत्म नियंत्रण और संयम रखना चाहिए, जिससे प्रदूषण बढ़ेगा।

दिवाली के चार दिनों के उत्सव के दौरान प्रदूषण फैलाकर महामारी के खिलाफ 9 महीने से चली आ रही कड़ी मेहनत को बर्बाद न करें।

Leave a Reply